समाचार विस्तार से | एसजेवीएन लिमिटेड
समाचार

वित्तीृय वर्ष 2018-19 के लिए एसजेवीएन रजत जयंती मेधावी छात्रवृत्ति योजना के तहत 250 मेधावी छात्रों को छात्रवृत्तियां दी जा रही

जनवरी 07, 2019

हिमाचल प्रदेश उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश माननीय न्‍यायमूर्त‍, श्री सूर्यकान्त तथा एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नंद लाल शर्मा ने शिमला में हिमाचल प्रदेश के 147 छात्रों को मेधावी छात्रवृत्तियां प्रदान की। चयनित छात्रों को 24,000/- रुपए राशि के छात्रवृत्ति चैक प्रदान किए गए।

एसजेवीएन अपनी सीएसआर की पहलएसजेवीएन रजत जयंती मेधावी छात्रवृत्ति योजनाके अंतर्गत वित्‍तीय वर्ष 2018-19के लिए अपने प्रचालन वाले राज्‍यों से 12वीं कक्षा के 250 मेधावी छात्रों को छात्रवृत्तियां प्रदान कर रहा है। शिमला में आयोजित एक समारोह में हिमाचल प्रदेश के 147 मेधावी छात्रों को एसजेवीएन फाऊंडेशन द्वारा छात्रवृत्तियां प्रदान की गई। उपर्युक्‍त के अलावा अन्‍य राज्‍य जहां एसजेवीएन की परियोजनाएँ प्रगति के विभिन्‍न चरणों में है नामतः उत्‍तराखंड,बिहार तथा महाराष्‍ट्र में भी एसजेवीएन के संबंधित कार्यालय बाकी 103 छात्रवृत्तियां मेधावी छात्रों को प्रदान करेंगे।

एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक,श्री नन्‍द लाल शर्मा ने मुख्‍य अतिथि का गर्मजोशी से स्‍वागत किया और बताया कि सीएसआर के अंतर्गत विभिन्न योजनाओं को प्रभावी और पारदर्शी तरीके से अमल में लाने के लिए एसजेवीएन फाऊंडेशन का गठन किया गया है। फाऊंडेशन द्वारा छात्रों के मध्‍य स्‍वस्‍थ प्रतिस्‍पर्धा की भावना उत्‍पन्‍न करने और विभिन्‍न विधाओं में उच्‍च अध्‍ययन प्राप्त करने में उनकी मदद करने के उदेश्य से वर्ष 2012 मेंएसजेवीएन रजत जयंती मेधावी छात्रवृत्ति योजना की शुरूआत की गई। 12वीं कक्षा के इन मेधावी छात्रों का चयन सीबीएसई, आईसीएसई तथा राज्‍य शिक्षा बोर्ड स्‍कूलों से किया जाता है। तदुपरांत इन चयनित छात्रों को अपना कोर्स पूरा करने तक प्रतिमाह रुपए 2000/- की छात्रवृत्ति दी जाती है। एसजेवीएन इस योजना के तहत आज की तिथि तक 1387 मेधावी छात्रवृत्तियां प्रदान कर चुका है।

उन्‍होंने यह भी बताया कि इस योजना का उदेश्य बीपीएल परिवारों के छात्रों तथा दिव्‍यांगों को उच्च शिक्षा के अवसर उपलब्‍ध करवाना है जिसके लिए इन श्रेणियों के छात्रों के लिए क्रमशः 30% और 10% छात्रवृत्तियों के संवितरण का विशेष प्रावधान है।

हिमाचल प्रदेश उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश माननीय न्‍यायमूर्त‍ि, श्री सूर्यकान्त ने छात्रवृ़त्ति प्राप्त करने वाले छात्रों को शुभकामनाएं दी । साथ ही उन्होंने एसजेवीएन प्रबंधन की प्रशंसा करते हुए कहा कि निगम के सीएसआर कार्यक्रमों के तहत शिक्षा के क्षेत्र में की गई यह पहल देश के मानव संसाधन को सशक्त मानव संसाधन में परिवर्तित करने में सहभागिता निभा रही है । एसजेवीएन द्वारा दी जा रही इन छात्रवृ्त्तियों के माध्यम से कई राज्यों के बच्चों को शिक्षा के बेहतरीन अवसर मिल रहे हैं जिससे वैश्विक शेक्षणिक मानचित्र में भारत अपना नाम रोशन करने में सफल रहेगा ।

एसजेवीएन अपनी सीएसआर तथा सततशीलता संबंधी योजनाओं को एसजेवीएन फाऊंडेशन के माध्यम से क्रियान्वित करता है। फाऊंडेशन छह शीर्षों नामतः स्‍वास्‍थ्‍य एवं स्‍वच्‍छता, शिक्षा तथा दक्षता विकास, अवसंरचना तथा सामुदायिक विकास, सततशील विकास, स्‍थानीय संस्‍कृति,विरासत तथा खेलों का संवर्धन और संरक्षण तथा प्राकृतिक आपदाओं एवं विपदाओं के दौरान सहायता के तहत विभिन्‍न पहलें करता है।

छात्रवृत्ति वितरण समारोह में हिमाचल प्रदेश उच्‍च न्‍यायालय के रजिस्‍ट्रार जनरल श्री वीरेन्‍द्र सिंह सहित निदेशक(वित्‍त) श्री ए.एस बिंद्रा, निदेशक (कार्मिक) श्रीमती गीता कपूर एवं मुख्‍य सतर्कता अधिकारी, श्री श्‍याम सिह नेगी भी उपस्थित रहे।
Go to Navigation