समाचार विस्तार से | एसजेवीएन लिमिटेड
समाचार

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नन्द लाल शर्मा ने नेपाल के माननीय प्रधानमंत्री श्री के.पी.शर्मा ओली से भेंट की

मार्च 29, 2019

एसजेवीएनके अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नन्‍द लाल शर्मा ने एसजेवीएन अरूण-3 पावर डेवल्‍पमेंट कंपनी (एसएपीडीसी) के सीईओ श्री सतीश शर्मा सहित नेपाल के माननीय प्रधानमंत्री श्री के.पी. शर्मा ओली तथा नेपाल के माननीय वित्‍त मंत्री डॉ. युबा राज खातीबाड़ा से आज काठमांडू में भेंट की ।

एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नन्‍द लाल शर्मा ने नेपाल के माननीय प्रधानमंत्री और माननीय वित्‍त मंत्री को 900 मेगावाट अरूण-3 जलविद्युत परियोजना की प्रगति की जानकारी दी । श्री शर्मा ने माननीय प्रधानमंत्री से यह भी गुजारिश की कि एसजेवीएन को नेपाल में अरूण नदी बेसिन तथा अन्‍यत्र निर्माण के लिए और भी परियोजनाएं देने पर विचार किया जाए। माननीय प्रधानमंत्री परियोजना में चल रही गतिविधियों की गति को लेकर काफी संतुष्‍ट थे और अरूण-3 जलविद्युत परियोजना स्‍थलों का दौरा करने में काफी रूचि जाहिर की ।

एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नन्‍द लाल शर्मा ने नेपाल के माननीय प्रधानमंत्री को अरूण-3 जलविद्युत परियोजना के परियोजना स्‍थलों का भ्रमण करने हेतु हार्दिक रूप से आमंत्रि‍त किया । उन्‍होंने माननीय प्रधानमंत्री से यह भी गुजारिश की कि एसजेवीएन के प्रचालनाधीन जलविद्युत स्‍टेशनों यानि 1500 मेगावाट नाथपा झाकड़ी जलविद्युत स्‍टेशन तथा 412 मेगावाट रामपुर जलविद्युत स्‍टेशन के साथ-साथ इनके ईर्द-गिर्द क्षेत्रों का इन परियोजनाओं के निर्माण के फलस्‍वरूप हुए विकास का प्रत्‍यक्ष अनुभव लेने के लिए भ्रमण करें । इन परियोजनाओं के निर्माण से परियेाजना के ईर्द-गिर्द के क्षेत्रों के अवसंरचनात्‍मक तथा सामाजिक आर्थिक विकास में भारी योगदान हुआ है।

श्री नन्‍द लाल शर्मा ने बताया कि एसजेवीएन अरूण-3 पावर डेवल्‍पमेंट कंपनी (एसएपीडीसी) एसजेवीएन के पूर्ण स्‍वामित्‍व वाली एक कंपनी है जो नेपाल में 900 मेगावाट की अरूण-3 जलविद्युत परियोजना का निर्माण कर रही है । भारत के माननीय प्रधानमंत्री तथा नेपाल के माननीय प्रधानमंत्री ने एसजेवीएन की 900 मेगावाट की अरूण-3 जलविद्युत परियोजना की पिछले साल 11 मई को संयुक्‍त रूप से आधारशिला रखी थी । परियेाजना की अनुमानितलागत 7000 करोड़ रूपए (नेपाली रू.11200 करोड रूपए) है जिसमें विद्युत उत्‍पादन और पारेषण भाग शामिल है । उन्‍होंने आगे बताया कि परियोजना के निर्माण के दौरान लगभग 3500 व्‍यक्तियों को सीधे रोजगार मिलेगा जिसमें परियोजना का पारेषण घटक भी शामिल है ।

अरूण-3 जलविद्युत परियोजना(900 मेगावाट) पूर्वी नेपाल के सांखुवासभा जिले की अरूण नदी पर स्थित है । रन ऑफ द रिवर किस्‍म की इस परियोजना में प्रत्‍येक चार 225 मेगावाट उत्‍पादन ईकाईयों से युक्‍त भूमिगत विद्युत गृह के साथ 70 मी. ऊंचा कंक्रीट ग्रेविटी बांध तथा 11.74 कि.मी. लंबी मुख्‍य सुरंग परिकल्पित है ।
Go to Navigation