प्रेस विस्तार
प्रेस विज्ञप्ति

एसजेवीएन ने 900 मेगावाट की अरुण-3 जलविद्युत परियोजना के लिए बैंकों के संघ जिसका नेतृत्व भारतीय स्टेट बैंक कर रहा है से एमओयू किया ।

मार्च 31, 2019

एसजेवीएन ने 900 मेगावाट की अरुण-3 जलविद्युत परियोजना के लिए बैंकों के संघ जिसका नेतृत्व भारतीय स्टेट बैंक कर रहा है से एमओयू किया ।

एसजेवीएन अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी एसजेवीएन अरुण-3 पावर डेवल्‍पमेंट कंपनी (एसएपीडीसी) के माध्यम से 900 मेगावाट की अरुण-3 जलविद्युत परियोजना का क्रियान्वयन कर रही है। परियोजना 30 वर्ष की अवधि के लिए बूट आधार पर एसजेवीएन लिमिटेड को प्रदान की गई। कुल परियोजना लागत रू. 7018 करोड़ (नेपाली रू. 11,229 करोड़) होने की संभावना है, जिसमें विद्युत उत्‍पादन और पारेषण दोनों भाग शामिल हैं ।
		
 
एसजेवीएन के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक,  श्री नंद लाल शर्मा ने बताया कि इस परियोजना को 70: 30 ऋण इक्विटी अनुपात पर वित्त पोषित किया जाएगा । तदनुसार, एसजवेीएन भारतीय रू. 2105 करोड़ (नेपाली रू. 3369 करोड़) का योगदान इक्विटी के रूप में करेगा जबकि भारतीय रू. 4913 करोड़ (नेपाली रू. 7860 करोड़) ऋण का हिस्सा होगा । भारतीय रू. 10,000 करोड़ से अधिक की नेट वर्थ के साथ और लगभग 2,900 करोड़ रुपये के कैश रिजर्व के साथ एसजेवीएन के पास इक्विटी भाग को पोषित करने में वित्तीय रूप से समर्थ है । उन्होंने आगे कहा कि भारत में देश के सबसे बड़े 1500 मेगावाट के नाथपा झाकड़ी जलविद्युत स्‍टेशन के निर्माण एवं परिचालन का अनुभव रखने के उपरान्‍त एसजेवीएन हिमालय की विशष्टि एवं चुनौतीपूर्ण भौगोलिक परिस्थितियों को निष्‍पादित करने में तकनीकी रूप से भी सक्षम है 
		
 
श्री शर्मा ने आगे बताया कि वित्त पोषण के लिए ऋण के हिस्से के लिए एसजेवीएन ने भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व वाले बैंकों के एक संघ के साथ समझौता किया है । संघ के अन्य घटक एवरेस्ट बैंक लिमिटेड और एनएबीआईएल बैंक लिमिटेड हैं । बैंकों का समूह भारतीय रू. 4913 करोड़ (नेपाली रू. 7860 करोड़) का कुल टर्म लोन प्रदान करेगा, जिसमें भारतीय स्टेट बैंक भारतीय रू. 4100 करोड़ (नेपाली रू. 6560 करोड़) प्रदान करेगा, बाकी एवरेस्ट बैंक लिमिटेड और एनएबीआईएल  बैंक लिमिटेड द्वारा प्रदान किया जाएगा ।
		
 
समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर माननीय भूतपूर्व प्रधान मंत्री नेपाल श्री पुष्‍पा कमल दहल, नेपाल के माननीय वित्त मंत्री डॉ. युबा राज खातीवाड़ा, एसजेवीएन के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री नंद लाल शर्मा  एवं भारतीय स्‍टेट बैंक के उप प्रबंध निदेशक श्री पी.एन. प्रसाद की गरिमामयी उपस्थिति में किए गए ।  जबकि एसजेवीएन अरुण-3 पावर डेवलपमेंट कंपनी (एसएपीडीसी) के सीईओ, श्री सतीश शर्मा ने एसजेवीएन लिमिटेड की ओर से समझौते पर हस्ताक्षर किए ।
		
 
इस अवसर पर श्री ए.एस. बिंद्रा, निदेशक (वित्त), श्री कंवर सिंह, निदेशक (सिविल), श्रीमती गीता कपूर, निदेशक (कार्मिक) के साथ एसजेवीएन और एसएपीडीसी के अन्‍य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे ।
		


Go to Navigation